खबर

असम से उत्तराखंड तक आसमानी आफत, लाखों लोग बाढ़ में घिरे, रेस्क्यू के लिए NDRF तैनात

                                                                   Times7News

असम, ओडिशा समेत देश के कई राज्यों में बाढ़ जैसे हालात हैं. असम में भारी बारिश के बाद नदियां उफान पर हैं. 15 लाख से अधिक लोग बाढ़ के कारण प्रभावित हुए हैं. पानी से घिरे असम के मजूली में तूफान के कारण 400 से अधिक घर नष्ट हो गए हैं. वहीं उत्तराखंड के कई जिलों में भारी बारिश का अनुमान जताया गया हैं. एजेंसियां अलर्ट पर हैं.

                                                       असम में सबसे गंभीर हैं हालात

असम के 24 जिलों में लगभग 12 लाख लोग बाढ़ का प्रकोप झेल रहे हैं. अबतक इस प्राकृतिक आपदा में मरने वालों की संख्या 59 हो चुकी है. आधा काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान डूबा हुआ है और 70 से अधिक जानवर मारे जा चुके हैं. दुर्लभ प्रजाति के एक सिंग वाले गैंडे खतरे में हैं. प्रभावित जिलों में धीमाजी, बिस्वनाथ, लखीमपुर, सोनितपुर, दरांग, नलबारी, बरपेटा, बंगाइगांव, चिरांग, कोकराझार, धुबरी, सोपुथ सालमारा, गोलापारा, मोरीगांव, नागांव, कार्बी आंगलॉन्ग, गोलाघाट, जोरहाट मजुली, शिवसागर, चराईदेव, डिब्रूगढ़, करीमगंज तथा काचर जिला शामिल है.

                                                      उत्तराखंड में भारी बारिश का अलर्ट

यूपी, बिहार के कई इलाकों में भी भारी बारिश के कारण नदियां उफान पर हैं. उत्तराखंड के कुमाऊं में बारिश से आधा दर्जन रिहायशी मकान भूस्खलन की चपेट में आए हैं. पिथौरागढ़ के धारचूला क्षेत्र में ढालीगाढ़ नदी में सड़क समा जाने से 13 गांवों का अन्य क्षेत्रों से संपर्क कट गया है. काली नदी खतरे के निशान के करीब पहुंच गई है. देहरादून, उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग, बागेश्वर समेत कई इलाकों में अगले 24 घंटे में भारी बारिश का अनुमान जताया गया है.

                                                                खेती को बड़ा नुकसान

एएसडीएमए की रिपोर्ट के मुताबिक असम में 66,516 हेक्टेयर से अधिक कृषि भूमि बाढ़ से प्रभावित हुई है. अधिकारियों के मुताबिक, प्रभावित 25,000 से अधिक लोगों ने विभिन्न जिलों में सरकार द्वारा स्थापित 19 शिविरों में शरण ले रखी ह        


                                                ओडिशा सरकार ने मांगी सेना की मदद

ओडिशा में भी बाढ़ से कई जिलों में हालात काफी गंभीर है. दक्षिणी ओडिशा के विजयनगरम और श्रीकाकुलम जिलों में बाढ़ का खासा असर हुआ है. आंध्र प्रदेश और ओडिशा के बीच ट्रेन सेवा भी बुरी तरह प्रभावित हुआ है. रायगड़ा और कालाहांडी के हिस्सों में भारी बारिश के चलते अचानक आई बाढ़ से प्रभावित लोगों की सुरक्षा के लिए ओडिशा सरकार ने सेना और वायु सेना की मदद मांगी और केंद्र सरकार से राहत व बचाव कार्यो में तेजी लाने के लिए चार हेलीकॉप्टर उपलब्ध कराने का आग्रह किया है.

                                                        आंध्र में खेती को भारी नुकसान

आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम में नारायणपुरम, अन्नावरम, कोल्लीवलासा आदि इलाके जलमग्न हैं. विजयनगरम-श्रीकाकुलम हाईवे पर यातायात प्रभावित हुआ है. गांवों में स्कूलों में और गन्ने के खेतों में पानी भर गया है. मौसम विभाग ने तटीय आंध्र प्रदेश के जिलों में अगले 24 घंटों में भारी बारिश का अनुमान जताया है.

                                               गुजरात के कच्छ और सौराष्ट्र में स्थिति गंभीर

गुजरात में बाढ के चलते अब तक 9 लोगों की मौत हो चुकी है. जामनगर के 3 लोग जो पानी में बह गये थे, उन्हें ढूँढने का काम अब भी जारी है. गुजरात के कई इलाकों में भी भारी बारिश लोगों के लिए मुसीबत बनकर आई है. खासकर कच्छ और सौराष्ट्र के कई इलाकों में बाढ़ जैसे हालात हैं. मोरबी, सुरेंद्रनगर, राजकोट, जामनगर और कच्छ में बारिश से स्थिति काफी भयावह हुई है. गुजरात में पिछले 48 घंटे में एनडीआरएफ और एयरफोर्स ने 405 लोगों को प्रबावित इलाकों से निकालकर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया है.

50% LikesVS
50% Dislikes

Shushil Nigam

Times 7 News is the emerging news channel of Uttar Pradesh, which is providing continuous service from last 7 years. UP's fast Growing Online Web News Portal. Available on YouTube & Facebook.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button